गुरुवार, 7 जनवरी 2010

बिहार विकास के मामले में दूसरे स्थान पर

अब तक पिछड़े और सबसे गरीब राज्यों की सूची में शुमार बिहार ने जबरदस्त तरक्की की है। बीते 4 साल के दौरान सकल घरेलू उत्पाद के विकास के मामले में बिहार तेज तरक्की करने वाले राज्यों की सूची में दूसरे स्थान पर पहुंच चुका है।


सरकारी संस्था सीएसओ की ओर से किए गए सर्वेक्षण के आंकड़े बताते हैं कि 2004-05 से वर्ष 2008-09 के दौरान बिहार की विकास दर 11.03 प्रतिशत रही, जो आश्चर्यजनक है।

वर्ष 2003-04 के दौरान बिहार की हालत ये थी तरक्की की रफ्तार -5.15 प्रतिशत पर पहुंच गई थी।

लेकिन अब बिहार विकास दर के मुकाबले में गुजरात को टक्कर दे रहा है। साल 2004-05 से 2008-09 के दौरान गुजरात की विकास दर 11.05 प्रतिशत रही, जो बिहार की विकास दर से थोड़ी ही ज्यादा है।

हालांकि इस दौरान सरकार भी बदली। लालू प्रसाद यादव से सत्ता नीतिश कुमार के हाथ में पहुंची। जिन्होंने उद्योगों और कारोबारियों में भरोसा पैदा करने के लिए तमाम उपाय किए।