बुधवार, 9 सितंबर 2009

नारियल के गुण पर एक नजर





नारियल एक, गुण अनेक
Sep 08, 04:53 pm

नई दिल्ली [जागरण न्यूज नेटवर्क]। भारतीय खानपान में नारियल का प्रयोग सदियों से होता आ रहा है। नारियल का गूदा, पानी और तेल इस्तेमाल में लाया जाता है। यह न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होता है, इसे बेहद पौष्टिक भी माना गया है। इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर, विटामिन और खनिज होता है। नारियल के क्या-क्या फायदे हैं, आइये डालते हैं एक नजर।

-यह इंफ्लूएंजा, दाद, चेचक, हेपेटाइटिस सी, एड्स जैसे बीमारियों के लिए जिम्मेदार वायरस को खत्म कर देता है।

-यह उन बैक्टीरिया को भी खत्म करता है जो अल्सर, गले का संक्रमण, दांतों की बीमारी और निमोनिया पैदा करते हैं।

-शरीर को तुरंत ऊर्जा प्रदान करता है।

-यह इंसुलिन के स्राव को बेहतर करता है रक्त में ग्लूकोज की मात्रा को संतुलित बनाए रखता है। यह डायबिटीज का खतरा भी घटाता है।

-नारियल के सेवन से शरीर द्वारा कैल्शियम और मैग्नीशियम के अवशोषण की प्रक्रिया बेहतर हो जाती है। यह हड्डियों और दांतों को भी मजबूत बनाता है।

-आस्टियोपोरोसिस [हड्डियों का कमजोर हो जाना] के खतरे से बचाता है।

-पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है।

-नारियल बवासीर में होने वाले दर्द को घटाने में कारगर है।

-यह ब्रेस्ट, कोलन [बड़ी आंत] और लिवर कैंसर के खतरे से बचाता है।

-दिल के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद है। यह कोलेस्ट्राल के अनुपात को सुधारता है और दिल की बीमारी के खतरे को कम करता है।

-पित्ताशय से संबंधित बीमारी के लक्षणों से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

-यह किडनी के स्टोन को गलाने में मदद करता है।

-इसमें कैलोरी काफी मात्रा में पाई जाती हैं।

-मोटापे से बचाता है।

-सूर्य की पराबैगनी किरणों के दुष्प्रभाव से शरीर की रक्षा करता है।

-यह शरीर पर पड़ने वाली झुर्रियों और शिथिल पड़ती त्वचा के लिए उपयोगी होता है।

-नारियल का तेल किसी दवा से कम नहीं। स्वास्थ्य के लिहाज से इसे सबसे अच्छा तेल माना गया है।

नारियल का लेटिन नाम कोकोस न्यूसीफेरा है। नारियल का पानी पीकर, कच्चा नारियल खाने से कृमि निकल जाते है। ५०ग्राम नारियल के तेल में २नींबू का रस मिलाकर मालिश करने से खुजली कम होती है।प्रातः भूखे पेट २५ग्राम नारियल खाने से नक्सीर आना बन्द होता है। यह सात दिन तक खाये। नित्य एक नारियल का पानी गर्भावस्था में पीते रहने से सुन्दर सन्तान का जन्म होता है। नारियल मूत्र साफ़ करता है।कामोत्तेजक है। मासिक धर्म खोलता है। यह शरीर को मोटा करता है।मस्तिष्क की दर्बलता दूर करता है। खाँसी और दमा वालों को नारियल नहीं खाना चाहिये। नारियल का पानी पीने से पथरी निकल जाती है।कच्चा नारियल विशेष लाभदायक है।