सोमवार, 14 सितंबर 2009

चीन ने भारत पर लगाया जासूसी का आरोप

चीन ने भारत पर लगाया जासूसी का आरोप

from danik jagran। चीन के एक सैन्य विशेषज्ञ ने भारत पर बीजिंग के राजनयिक अधिकारों का उल्लंघन करने तथा कोलकाता में रोके गए यूएई वायुसेना के मालवाहक विमान की तलाशी के दौरान चीन के सैन्य साजोसामान की जासूसी करने का आरोप लगाया है।

प्रख्यात सैन्य विशेषज्ञ दाई जू ने कहा कि भारतीय अधिकारियों की कार्रवाई से राजनयिक अधिकारों का उल्लंघन हुआ है क्योंकि विमान में रखा सामान चीन का था। सरकार द्वारा चलाए जा रहे ग्लोबल टाइम्स में दाई के हवाले से कहा गया कि विमान में किसी भी तरह की जांच के लिए यूएई और चीन से मंजूरी ली जानी चाहिए थी। इससे चीन के संपत्ति अधिकार का हनन हुआ है और इसके सैन्य रहस्यों की गुप्तचरी हुई है।

अखबार ने एक अज्ञात सैन्य सूत्र के हवाले से यह भी खबर दी है कि संयुक्त अरब अमीरात का सी 130 ह‌र्क्यूलिस विमान अबुधाबी की सैन्य प्रदर्शनी से चीनी हथियारों का परिवहन कर रहा था।

भारत ने इस विमान के कोलकाता में 10 सितंबर को उतरने के चार दिनों बाद इसे छोड़ा। विमान इसलिए रोका गया था क्योंकि इसमें ले जाए जा रहे हथियारों और गोला-बारूद की घोषणा नहीं की गई थी। विमान के दस सदस्यीय चालक दल से भी पूछताछ की गई।

भारत ने इस विमान को तब मंजूरी जब यूएई अधिकारियों ने बताया कि इसके पायलटों ने विमान में सवार हथियार एवं गोला-बारूद की घोषणा में तकनीकी त्रुटि की है जिसके लिए उसने खेद जताया।